सोशल साइट समाज के जागरूकता का काम | सोशल साइट ने उपलब्ध कराया जनता को नया मुकाम ||

Breaking

Friday, February 8, 2019

जालसु कला में पांच कुण्डीय गायत्री यज्ञ सपन्न।

पंडित सीताराम, उपेनद्र व निर्मला के द्वारा जालसु कला के नागेणचया मंदिर मे पांच कुण्डींय यज्ञ आयोजन रखा गया। जिसमे सभी वर्गो के लोगो ने बढ़ चढ़ कर भाग लिया। इस यज्ञ मे यजमानों के रूप गिरीराज सिह, जयसिंह, गोविद दासोत, लाला राम बेनीवाल, शिवराज सिंह, व अर्जुन सिंह जी ने सपत्नीक बैठकर यज्ञ मे आहुतियंा दी। नागणेच्या  मदिंर के पूजारी व पुर्व सरपंच गिरवर सिंह, दुर्गश कवंर, मिथलेश कंवर व रूपेन्द्र सिहं सहित गंावो के  अन्य लोग मोजुद थे। इस मौके पर यज्ञ की महिमा के बारें मे जानकारी देकर पंडित उपेन्द्र कुमार ने बताया की यज्ञ करने से बरसात के देवता भगवान इन्द्र देव खुश होते है और जंहा यज्ञ होते है वंहा पर ईश्वर की मेहरबानी से अच्छी बरसात होती है।  इस यज्ञ के आयोजन से पूर्व निर्मला देवी ने भक्ति भाव भरें भजन सुनाये। तथा पंडित सीताराम कहा की गायत्री मंत्र एक वैद मंत्र है जिसका अनुष्ठान और मंत्र सिधि करने से सभी प्रकार की मनोकामना पुरी होती है। उन्होंने बताया की गायत्री शक्तिपीठ उपजोन डेगाना द्वारा  जन जाग्रति को लेकर इन दिनों गंाव गंाव जाकर गायत्री यज्ञ कराया जा रहा है। जिसमे ग्रामीणों द्वारा भाग लिया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

Pages